Deprecated: Function wp_get_loading_attr_default is deprecated since version 6.3.0! Use wp_get_loading_optimization_attributes() instead. in /home/funfacts/domains/funfactsindia.com/public_html/wp-includes/functions.php on line 6078

सेलिब्रिटी भी हुए लिट्टी चोखा के दीवाने

लिट्टी चोखा बिहार तथा झारखन्ड में खायी जाने वाली पसंदीदा एवं स्वादिष्ट डिश हैं इसे प्रायः दिन में या शाम के समय पसंद किया जाता है !
यु तो पिछले कुछ दिनों में लिट्टी चोखा बहुत चर्चा में रही क्यूंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फिल्म स्टार आमिर खान सहित कई बड़ी हस्तियां इसका स्वाद चखने से खुद को रोक नहीं पायी !
वैसे तो घी में डूबी हुई लिट्टी का स्वाद जिसने भी चखा वो इसका फैन हो गया और अकसर लोग यह कहते हैं कि बिहार का नाम लिया जाए और लिट्टी चोखा की बात न हो, ऐसा हो ही नहीं सकता है !

जानें लिट्टी चोखा का इतिहास
बताया जाता है कि इसका इतिहास मगध काल से जुड़ा हुआ है क्योंकि लिट्टी का प्रचलन मगध साम्राज्य में बड़े पैमाने पर किया जाता था.
यह भी बताया गया है की 1857 के विद्रोह के दौरान तात्या टोपे और रानी लक्ष्मी बाई के सैनिक बाटी या लिट्टी को पसंद करते थे। क्योंकि इसके लिए ज्यादा सामान की जरूरत नहीं थी और इसे पकाना आसान था। आज लिट्टी चोखा की प्रसिद्धि का आलम यह है कि जो भी बिहार जाता है वह खुद को लिट्टी चोखा खाने से नहीं रोक पाता है।

लिट्टी-चोखा बनाने के लिए सामग्री:

लिट्टी के लिए सामग्री
आटा – 1.5 कप
सत्तू – 1 कप
तेल – 1 टी स्पून
घी – 2 .5टेबल स्पून
प्याज बारीक कटा – 2
लहसुन कद्दूकस – 4
हरी मिर्च कटी – 4
धनिया बारीक कटा – 1 कप
अजवाइन – 2 स्पून
नींबू रस – 1.5 टी स्पून
अचार मसाला – 1 टेबल स्पून
सेंधा/काला नमक – स्वादानुसार

चोखा बनाने की सामग्री
बड़ा बैंगन गोल वाला – 1
आलू – 2.5
टमाटर – 1.5
प्याज बारीक कटा – 2
अदरक बारीक कटा – 1 टुकड़ा
हरी मिर्च बारीक कटी – 3
लहसुन कटी – 2
हरा धनिया – 2 टी स्पून
नींबू – 2
तेल – 1 टेबल स्पून
सेंधा/काला नमक – स्वादानुसार

लिट्टी-चोखा बनाने की विधि
लिट्टी चोखा बनाने के लिए सबसे पहले लिट्टी बनाने की शुरुआत करें. सबसे पहले आटे को लें और उसे अच्छी तरह से छान लें. फिर उसे एक बर्तन में निकाल लें. अब इसमें घी, स्वादनुसार नमक डालकर अच्छे से मिला दें. अब गुनगुने पानी की मदद से आटे को नरम गूंथ लें. अब इस गुंथे हुए आटे को आधा घंटे के लिए ढंककर अलग रख दें.

इसके बाद लिट्टी का मसाला तैयार करने की शुरुआत करें. सबसे पहले एक बर्तन में सत्तू निकाल लें. उसमें हरी मिर्च, धनिया, अदरक, नींबू का रस, काला नमक, जीरा, सादा नमक और अचार का मसाला डालकर अच्छी तरह से मिला लें. इस मिश्रण में थोड़ा सा सरसों का तेल भी डाल दें. अब इसमें हल्का सा पानी मिला दें और मसाले को दरदरा बना लें.

अब गुंथे हुए आटे को लें और उससे मीडियम साइज की लोइयां बना लें. इन लोइयों को हथेली पर रखकर कटोरी जैसा आकार दें. अब इसमें तैयार किया गया लिट्टी मसाला एक से दो चम्मच के बीच भरें. और आटे को चारों ओर से उठाकर बंद कर दें. अब इसे गोल कर लोई बना लें. जब लोई गोल हो जाए तो उसे हथेली से दबाकर थोड़ा सा चपटा कर लें. अब एक लोहे का बर्तन लें उसमें लकड़ी या कोयले की मदद से आग तैयार करें. अब आपने जो लोई तैयार की हैं उन्हें इस आग में सेंक लें. बीच में चेक करते रहे कि लिट्टी अच्छे से सिकी है या नहीं. जैसे-जैसे लिट्टी सिकते जाएं उन्हें आग से बाहर निकालकर अलग रख दें.

चोखा बनाने के लिए सबसे पहले बैंगन, आलू और टमाटर को अच्छी तरह से भून लें. इसके बाद उनका छिलका उतार दें. अब एक बर्तन में इन्हें लेकर अच्छी तरह से मैश कर लें. अब इसमें प्याज, धनिया, नींबू, मिर्च, नमक और तेल डालकर अच्छी तरह से मिला दें. एक कड़ाही लें उसमें थोड़ा सा तेल गर्म करें और लहसुन अदरक का तड़का तैयार करें. इस तड़के को चोखे में मिला दें. इस तरह आपको चोखा भी तैयार हो चुका है. अब लिट्टी को बीच से तोड़कर घी में डुबो दें और लिट्टी चोखा को सरसों की चटनी या दही के साथ सर्व करें.

Leave a Comment